TRENDING
  • 8:26 am » मॉनसून सत्रः दर्शक दीर्घा और चैंबर में भी बैठेंगे माननीय, ये है तैयारी
  • 8:26 pm » दिल्ली: LNJP अस्पताल में 800 सीसीटीवी कैमरे इंस्टॉल, कोरोना मरीजों की हो रही लाइव मॉनिटरिंग
  • 8:26 am » Coronavirus Latest Updates: भारत में 24 घंटे में कोरोना के 57,982 नए केस, अब तक 50,921 मौतें
  • 8:26 pm » कोरोना संकट की वापसी के बीच न्यूजीलैंड में अक्टूबर तक टला आम चुनाव
  • 8:26 am » कोरोना: देश में अब तक 50 हजार मौतें, पिछले 11 दिन में करीब 10 हजार लोगों की गई जान


गामालेया नेशनल रिसर्च सेंटर के निदेशक एलेक्जेंडर
गिंट्सबर्ग का कहना है कि हमने कोरोना के जो कण वैक्सीन में इस्तेमाल किए
हैं, वो शरीर को नुकसान नहीं पहुंचाते. ये कण शरीर में अपनी संख्या नहीं
बढ़ाते. वैक्सीन लगने के बाद कुछ लोगों में बुखार की स्थिति बन सकती है,
लेकिन ऐसा इम्यून सिस्टम बूस्ट होने के कारण होता है. लेकिन, पैरासिटामॉल
से इसके साइडइफेक्ट को खत्म किया जा सकता है.



Avatarnewstolive

RELATED ARTICLES