TRENDING
  • 8:26 am » मॉनसून सत्रः दर्शक दीर्घा और चैंबर में भी बैठेंगे माननीय, ये है तैयारी
  • 8:26 pm » दिल्ली: LNJP अस्पताल में 800 सीसीटीवी कैमरे इंस्टॉल, कोरोना मरीजों की हो रही लाइव मॉनिटरिंग
  • 8:26 am » Coronavirus Latest Updates: भारत में 24 घंटे में कोरोना के 57,982 नए केस, अब तक 50,921 मौतें
  • 8:26 pm » कोरोना संकट की वापसी के बीच न्यूजीलैंड में अक्टूबर तक टला आम चुनाव
  • 8:26 am » कोरोना: देश में अब तक 50 हजार मौतें, पिछले 11 दिन में करीब 10 हजार लोगों की गई जान


aajtak.in

नई दिल्ली, 30 जुलाई 2020, अपडेटेड 13:48 IST

मोबाइल के कमजोर नेटवर्क सिंग्नल की शिकायत हर जगह आम है. लेकिन उड़ीसा के संबलपुर जिले के एक गांव में छात्रों पर ये दिक्कत जान पर भारी पड़ रही है. यहां इन दिनों लॉकडाउन की वजह से ऑनलाइन क्लास चलती है. मोबाइल नेटवर्क दुरुस्त नहीं होने पर छात्रों को 150 फुट की पानी की टंकी पर चढकर बैठना पडता है ताकि सिग्नल सही आएं और ऑनलाइन पढ़ाई हो पाए. जान पर खेलकर उनको ऑनलाइन पढाई करनी पड़ रही है. रोज छात्र पढाई के लिए कुछ इसी तरह ऊंची टंकी पर चढ़ते हैं और फिर काफी संकरी जगह पर एक दूसरे से सटकर बैठ जाते हैं . देखें वीडियो.

The unfold of coronavirus has thrown regular lives out of drugs. With colleges closed, college students are attending the web lessons. In Odisha, few college students climbed atop water tanks to attend the web lessons as there isn’t any cellular community on this village.



Avatarnewstolive

RELATED ARTICLES